Friday, December 2, 2022
HomeFinanceपैसे उधार लेने के 6 बहुत ही आसान तरीके

पैसे उधार लेने के 6 बहुत ही आसान तरीके

 

पैसे उधार लेने हैं लेकिन ये नहीं पता कैसे

क्या आपको पैसो की बहुत ही ज्यादा जरुरत है

क्या आप पैसो की कमी से जूझ रहे है…

हममें से बहुत सारे लोगों को बहुत से खर्चों को पूरा करने के लिये पैसों की जरुरत होती है। हमें उच्च शिक्षा, नये घर, शादी और नये व्यवसाय के लिये पैसों की जरुरत होती है। लेकिन सबसे अच्छी बात ये है कि आज के टाइम में ऐसे कई सारे आप्शन है जिससे आपको आसानी से मदद मिल सकती है।

हालांकि, पैसे उधार लेने से पहले आपको कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना चाहिये। और उनमें से कुछ बहुत ही महत्वपूर्ण नीचे शामिल की गई है –

  • आपको ध्यान देना होगा कि उच्च ब्याज भुगतान वाली शर्ते ना हो और इसके साथ-ही-साथ लोन अवधि भी कम होनी चाहिये।
  • इसके अलावा ईएमआई भी आपके पास मौजूद वित्तीय संसाधनों के साथ देने वाली होनी चाहिये।
  • अच्छा होगा कि आपको कम दरों पर पैसे उधार की तलाश जरुर करनी चाहिये या फिर अपने लोन को कम दरों की पेशकश करने वाल साधनों पर स्थानांतरित करें और हमेशा फौजदारी लागत को ध्यान में रखना चाहिये।
  • टैक्स लाब लंबे समय से पैसे बचाने के बराबर बिल्कुल नहीं है और इसीलिये केवल टैक्स लाभ लेने के लिये पैसे उधार बिल्कुल ना लै या फिर अपने लोन चुकौती को लम्बा ना करें।
  • ये बहुत ही सही रहेगा कि आप अपनी जरुरत की कम-से-कम राशि उधार लेनी चाहिये ताकि आप आसानी से ईएमआई आपकी मासिक आय के 40 प्रतिशत से कम हो और आपकी लोन-से-आय अनुपात कम होना चाहिये।

 

  • पैसे उधार लेने के सबसे अच्छे तरीके –

 

  • पर्सनल लोन –

सबसे अच्छी बात ये है कि पर्सनल लोन आपकी अभी की बहुत सी वित्तीय जरुरतों जैसे गृह सुधार, यात्रा व्यय, शादियों, आपातकालीन जरुरतों को पूरा करने में मदद करता है। लेकिन इस प्रकार के लोन का उपयोग आप किसी भी तरह से उच्च शिक्षा या फिर नये घर को खरीदने के लिये नहीं किया जा सकता है। हालांकि, लोन समझौते की शर्तों के आधार पर कार्यकाल और ब्याज थोड़े अलग हो सकते हैं। अगर आपका क्रेडिट स्कोर 700 से ऊपर है, तो पर्सनल लोन सबसे सस्ते धन-उधार विकल्पों में से एक हो सकता है।

  • पीयर-टू-पीयर लेंडिंग –

और दूसरे नंबर पर है पीटूपी को दूसरे शब्दों में सोशल लेंडिंग या क्राउड लेंडिंग के रुप में भी बहुत ही अच्छे जाना जाता है। पीटूपी प्लेटफार्म व्यक्तिगर निवेशकों को जोड़ता है जो कर्जदारों को अपना पैसा उधार देने के लिये बहुत ही आतुर रहते हैं। पी-टू-पी प्लेटफार्म को द्वारा उधार पैसे लेने या फिर उधार देने में किसी भी तरह की वित्तीय मध्यस्थ शामिल नहीं हैं, क्योकि यह थोड़ा जोखिम भरा भी है सकता है।

  • बंधक आधारित उधार –

ये भी एक तरह का बंधक ऋण है और इसकी शर्त ये है कि आपको अपनी संपत्ति को गिरवी रखकर धन सुरक्षित रखना होता है। बंधक ऋण पर ब्याज दरें 8 प्रतिशत से 12 प्रतिशत अलग हो सकती है। सबसे बड़ी बात ये है कि आप 15 साल की पुनर्भुगतान अवधि के साथ पंजीकृत संपत्ति मूल्य को 60 प्रतिशत से 70 प्रतिशत तक का लाभ उठाकर बैंकों से बंधक आधारित ऋण उधार लिया जा सकता है। होम लोन का इस्तेमाल घर को खरीदने के लिये किया जा सकता है जबकि कमर्शियल प्राप्र्टी लोन से कमर्शियल स्पेस खरीदा जा सकता है। वहीं दूसरी तरफ संपत्ति पर दिये गया ऋण का उपयोग विदेश में शिक्षा, गृह नवीनीकरम आदि के लिये किया जा सकता है।

  • क्रेडिट कार्ड –

क्रेडिट कार्ड के बारे में सब जानते है और ये एक सबसे अच्छा तरीका भी माना जाता है। सबसे बड़ी बात ये है कि क्रेडिट कार्ड को उपयोग करने के पीछे का कारण है कि मूल अवधारणा सामान या सेवाओं को बहुत ही सरलता से खरीदने के लिये पैसे उधार लेना है। क्रेडिट कार्ड कंपनी को जब आप एप्लाई कर देते है तो आपकी ओर से वो व्यापारी को भुगतान कर देती है लेकिन इसकी एक शर्त ये भी है कि आप समय से उस बिल का निपटारा कर दें। इसके अलावा अच्छी बात ये भी है कि क्रेडिट कार्ड, बैंक या वैक्लिपक ऋणदाता से अल्पकालिक ऋम के द्वारा भी नकद आप आगे भी प्राप्त कर सकते हैं। क्रेडिट कार्ड पर आपको नकद अग्रिम में बहुत ही तेजी से अनुमोदन और इसके साथ-ही-साथ आपको तुरंत धन की अच्छी सुविधा भी मिल जाता है और दूसरी तरफ वो अत्याधिक ब्याज दरों और शुल्कों से साथ भी आते है।

  • म्यूचुअल फंड –

म्यूचुअल फंड का नाम हम सभी लोगों ने सुना हुआ है और सबसे अच्छी बात ये है कि ये आपको बहुत ही अच्छा रिटर्न दे सकती है और इसके साथ ही कठिनाई कके समय में उनके खिलाफ आपको उधार लेने की बहुत ही अच्छी क्षमता भी देती है। कई तरह के बैंक और गैर-बैंकिंग वित्तिय कंपनियां आपके द्वारा दी गई म्यूचुअल फंड में डाली गई निवेश की राशि के विरुद्द ऋण भी देती है। दूसरे शब्दों में ये भी कहा जा सकता है कि ये सिर्फ एक तरह का बंधक ऋण है। और इसकी ब्याज दर वयक्तिगत ऋण की तुलना मे बहुत ही कम है और आमतौर पर 9 से 13 प्र्तिशत तक ही हो सकता है। और आमतौर पर अपनी इक्विटी म्यूचुअल फंड इकाइयों को मूल्य का 50 से 60 प्रतिशत तक उधार लिया जा सकता है।

  • स्टाँक पोर्टफोलियो –

यदि आपको पैसे उधार लेने है तो स्टाक पोर्टफोलियो का भी इस्तेमाल कर सकते है। आप शायद ये सोच रहे होगें की ऐसा कैसे हो सकता है। इसके लिये आपकी ब्रोकरेज फर्म आपके पोर्टफोलियो में स्टाक बान्ड, एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड और म्यूचुअल फंड का आंकलन करती है और उसी के आधार पर आपको पैसा उधार देती है।

और अंत में –

इन सभी उपायों को अलावा आप ऑनलाइन पैसे भी उधार लें  सकते हैं। जी हां, आप आनलाइन भी पैसा उधार ले सकते है। इसके लिये आपको सबसे पहले पता होना चाहिये कि आपको कितन पैसे की जरुरत है और कितने समय के लिय।

 

Nandini Singh
तो स्वागत है दोस्तों आपका हमारी बेबसाइट पर... मै नंदिनी सिहं भदौरिया यहां पर आपके साथ फाइनेंस और आनलाइन बिजनेस से संबंधित लेख प्रकाशित करने के लिये बहुत ही उत्सुक हूँ... हमारी ये बेबसाइट कुछ नया, अलग और सूचनात्मक लाने के लिए पूरी तरह से समर्पित है... साथ ही साथ में पेशे से English Freelance Writer हूं और बहुत सी प्रोफेशन व व्यवसायिक बेवसाईट के लिये लिखती हूं। मुझे हमेशा से ही कुछ अलग लिखने का शौक रह है मैंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से मास कम्युनिकेशन और इग्नू से पॉलिटिकल साइंस किया... तो बने रहे हमारे साथ कुछ दिलचस्प पढ़ने के लिए और उस पर हमेशा चर्चा करने के लिये 🙂
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments